सीडीएस क्या है चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ कौन बनता है

सीडीएस क्या है?

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ भारतीय सशस्त्र बलों का सैन्य प्रमुख होता है। सीडीएस ने दिसंबर 2019 में चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी (सीओएससी) के अध्यक्ष के पद को रिप्लेस कर दिया।

जनरल बिपिन रावत अंतिम सीओएससी थे और इस तरह पहले सीडीएस थे क्योंकि उन्होंने 1 जनवरी 2020 को पदभार ग्रहण किया था।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) भारतीय सेना में सर्वोच्च पद का अधिकारी होता है। सीडीएस रक्षा मंत्री के प्रिंसिपल स्टाफ ऑफिसर और मुख्य सैन्य सलाहकार भी हैं।
सीडीएस अधिकारी सैन्य मामलों के विभाग का भी प्रमुख होता है।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ कौन बनता है

सीडीएस की नियुक्ति के लिए बुनियादी मानदंड सरल हैं। भारतीय सेना, भारतीय वायु सेना (IAF), और भारतीय नौसेना, तीनों सेवाओं का कोई भी कमांडिंग ऑफिसर CDS के पद के लिए पात्र है। सरकार को सैन्य अधिकारी की मैरिट-कम-सीनियॉरिटी के आधार पर निर्णय लेना होता है।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनने की मूल प्रक्रिया
सीडीएस बनने के लिए, संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित भर्ती परीक्षा में शामिल होना होगा।

ग्रेजुएट होना चाहिए
उम्र : 19-25 वर्ष

भर्ती
भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए)
ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी (ओटीए)
भारतीय नौसेना अकादमी (आईएनए)
भारतीय वायु सेना अकादमी (एएफए)

सीडीएस अधिकारी की भूमिका
CDS – भारत के शीर्ष सैन्य अधिकारी की प्रमुख भूमिकाएं होती हैं, जिनमें रक्षा मंत्रालय में सैन्य मामलों के विभाग (DMA) के सचिव, स्टाफ कमेटी के स्थायी अध्यक्ष और रक्षा मंत्री का प्रधान सलाहकार शामिल हैं।

सीडीएस मैंडेट तीनों सेनाओं के बीच ज्वाइंटलेस कोऑर्डिनेशन सुनिश्चित करता है।


सीडीएस यूनिफॉर्म

ट्राई सर्विस क्रेस्ट के साथ पेक्ड कैप 
शोल्डर रैंक बैज: (अशोक चिह्न के साथ ट्राई सर्विस क्रेस्ट)
कार ध्वज: राष्ट्रीय ध्वज और ट्राई सर्विस 
बेल्ट बकल: ट्राई-सर्विसेज  क्रेस्ट क्रेस्ट
ट्राई सर्विस क्रेस्ट वाले बटन

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top